Rin Mukti Puja – Ram Ram Ji- A Journey Towards Healing Yourself
Shopping cart
×

Search

Rin Mukti Puja



ऋण मुक्ति पूजा (Rin Mukti Puja)

यदि आप भी अपने जीवन में EMI, बैंक लोन जैसे समस्याओं से जूझ रहे हैं तो आपको जीवन में एक बार ऋण मुक्ति पूजा (Rin Mukti Puja) अवश्य करानी चाहिए।

इस संसार में, लोग अक्सर अपने जीविकोपार्जन के लिए परिश्रम करते हैं। लेकिन कई बार, वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए लोग कर्ज़ (ऋण) लेने के मजबूर हो जाते हैं।इन सभी परिस्थितियों के पीछे आकाशीय ग्रहों और भाग्य का भी प्रभाव हो सकता है।

शास्त्रों में ऋण मुक्ति के उपाय उपलब्ध हैं, जैसे कि ऋण मुक्ति पूजा और विशेष मंत्रों का पाठ। इसके अलावा, भगवान भोलेनाथ की शरण में जाकर आश्रय लेने की सलाह दी जाती है। भगवान भोलेनाथ की ऋण मुक्ति पूजा में भाग लेने से भक्तों को धन, कर्मचारी और व्यापार में बड़ी सफलता मिलती है। उनके परिवार में समृद्धि आती है।

पांडवों का भी कहा जाता है कि उन्होंने अपनी आर्थिक और शारीरिक कठिनाइयों को दूर करने और पुनः राज्य की प्राप्ति के लिए भगवान भोलेनाथ की ऋण मुक्ति पूजा की थी।
सतयुग में, स्वयं राजा हरिश्चंद्र ने भी कर्ज से मुक्ति के लिए ऋण मुक्ति पूजा करवाई थी।

माना जाता है कि ऋण मुक्ति पूजा न केवल पैसों के ऋण से छुटकारा दिलाती है, बल्कि व्यक्ति के पिछले जन्म के कर्मों और पितृऋण से भी मुक्ति प्रदान करती है। इसलिए, आइए जानते हैं कि ऋण मुक्ति पूजा क्या है और इस पूजा के फायदे क्या हैं। ऋण मुक्ति पूजा में भगवान शिव की पूजा, हवन और अभिषेक की जाती है। इस पूजा में पीले चने की दाल चढ़ाकर भगवान से कर्ज से मुक्ति के लिए प्रार्थना की जाती है। इससे भगवान बृहस्पति भी खुश होते हैं और भक्तों को कर्ज से मुक्ति का आशीर्वाद प्रदान करते हैं। ऋण मुक्ति पूजा में सर्वप्रथम भगवान श्रीगणेश और माता गौरी की पूजा की जाती है। इसके बाद नवग्रहों की पूजा होती है। साथ ही भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए रुद्राभिषेक पूज इस पूजा में पीले चने की दाल चढ़ाकर भगवान से कर्ज से छुटकारा पाने के लिए प्रार्थना की जाती है। इससे भगवान बृहस्पति भी खुश होते हैं और भक्तों को कर्ज से मुक्ति का आशीर्वाद (Karj Mukti Ke Upay) प्रदान करते हैं।  

ऋण मुक्ति पूजा (Rin Mukti Puja) में सर्वप्रथम भगवान श्रीगणेश और माता गौरी की पूजा की जाती है। इसके बाद नवग्रहों की पूजा होती है। साथ ही भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए रुद्राभिषेक पूजा भी किया जाता है।  

इसके बाद कर्ज से मुक्ति पाने के लिए भगवान शिव के विशेष मंत्रों का जाप करके ऋण मुक्ति हवन किया जाता है। 

ऋण मुक्ति पूजा में भाग लें
यदि आप भी अपने सभी ऋणों से मुक्ति पाना चाहते हैं तथा अपार धन प्राप्त करना चाहते हैं तो द्वारा ऋणमुक्तेश्वर महादेव मंदिर में आयोजित ऋण मुक्ति पूजा में अवश्य भाग लें